money management tips in hindi

 money management tips in hindi - मनी मैनेजमेंट टिप्स हिंदी 

money management tips in hindi  - कोविड-19 वैश्विक महामारी के कारण पूरे विश्व की अर्थव्यवस्था संकट में है। कोविड-19 वैश्विक महामारी ने दुनिया के सारे देशों को लॉकडाउन में डाल दिया है। लॉकडाउन के चलते बहुत से लोगों का रोजगार छीन गया है और कई कारोबार बंद हो गये है ,इस कारण बेरोजगारी काफी बढ़ गई है।

देखिये हमारी इनकम पे हमारा सीधा कोई कंट्रोल होता है। हम बस हमारी इनकम को बढ़ाने की कोशिस कर सकते है। लेकिन जो चीज हमारे सीधे कंट्रोल में है वह हमारे खर्चे। 

Money Management का सीधा संबंध आपके खर्चों से होता है। आप किसी न किसी माध्यम से पैसा कमाते हैं चाहे वो जॉब हो या बिज़नेस, पर क्या आपको महीने के अंत में पैसे की problem आती है। तो आप इस लेख की अंत तक जरूर पढ़ें  इस लेख में हम जानेंगे Money Management (धन प्रबंधन ) के बारे में। 

money management tips in hindi

देखिये पैसे कमाना बहुत आसान है। मुश्किल है तो पैसे को अपने पास रोके रखना , क्या आप फ्यूचर के लिए पैसा बचा पाते हैं ? आप पैसे तो कमाते हैं पर फिर आपको भी पैसों की किल्लत बनी रहती है, जिस कारण आप निराशा से भरे रहते है और आपको लगता है, शायद मैं ज्यादा पैसा नहीं कमा पा रहा हूँ इस कारण मुझसे हमेसा पैसों की प्रॉब्लम रहती है।


लेकिन ऐसा  बिलकुल भी नहीं हैं , असली प्रॉब्लम है आपके पास  मनी मैनेजमेंट का  ज्ञान न होना है। आप चाहे जितना भी money कमा लो लेकिन money management Knowledge न होने पर सब बेकार है। इस लिए इस पोस्ट में हम आपको money management tips in hindi बताने वाले है। और आपसे उम्मीद है की आप इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा लोगों से शेयर करेंगे। 

यह भी पढ़ें :-  बिजनस टिप्स हिंदी 


money management tips in hindi


# money management  के लिए बजट बनायें


money management tips in hindi  - सबसे पहले अपना बजट बनाएं। आप के महीने की Income  कितनी है और खर्च (Expenses) कितना है। यानी आय-व्यय का हिसाब रखना। अधिकांश लोग ऐसे होते हैं जो खर्च का हिसाब नहीं रखते। उनको लगता है कि खर्च सही दिशा में कर रहे हैं, लेकिन ऐसा नहीं होता। 


हर महीने में हम कुछ ऐसी चीजों को खरीदने में खर्च करते हैं जिसकी आवश्यकता नहीं होती। यह तभी पता चलेगा, जब आप खर्च का हिसाब रखना शुरू कर देंगे। जैसे ही आपको फालतू खर्च का पता चले। उसे अपने महीने के लिस्ट से हटा दीजिए, फिर अगले महीने का Fresh budget  बनाइए। ऐसा करके आप महीने के खर्च पर नियंत्रण रख सकते हैं।


# कैश रिजर्व तैयार करें 

आप कम से कम  6 महीने का मंथली इनकम, हमेशा अपने पास रखें । समय के साथ इसे 12 गुना करने की कोशिश करें। इमरजेंसी में जैसे नौकरी छूटने पर या कोई स्वास्थ्य सम्बन्धी संकट आने पर, आप इस पैसे का इस्तेमाल कर सकते हैं। कैश रिजर्व तैयार करने के लिए आप अपनी इनकम का 10 % हिस्से बचा कर रख सकते है। 


#  money  को बैंक और FD में रखें 

घर में कैश रखने की कोई जरूरत नहीं है। अपने पैसे अपने बैंक अकाउंट या बैंक फिक्स्ड डिपोजिट में रखें, और घर में जरूरत के हिसाब से कम से कम कैश रखें। ज्यादा से ज्यादा डिजिटल तरीके से लेनदेन करें। UPI आधारित एप्स और ऑनलाइन ट्रांसफर का इस्तेमाल करें।


# एक से अधिक बैंक अकउंट का यूज़ करें 

आप अपने मनी को एक से अधिक बैंक अकउंट में रखें ,आप ऐसा भी कर सकते है कि , जिन पैसों को इन्वेस्ट करना है उनके लिए अलग अकाउंट ,और बचत  करने के लिए अलग अकाउंट का उपयोग करें इस से आपको अपने money management में काफी मदद मिलेगी। 


# जरूरत से ज्यादा न खर्चें 

money management tips in hindi - पैसे बचाकर रखने की आदत डालें। गैर जरूरी खर्च में कटौती करें। अपने पोषण, सुरक्षा, और अच्छी सेहत के लिए जरूरी चीजों पर खर्च करने पर ध्यान दें। दिखावे के चक्कर  पड़ें अपनी प्राथमिकता को समझें तब खर्च करें। 


# पैसों की जरूरत पड़ने पर ही बैंक से पैसे निकालें 

money management tips in hindi  - यदि आपको नकद पैसों की जरूरत है तो अच्छी तरह सोच-समझकर ही अपने पैसों  को निकालें  SIP और मंथली पेमेंट्स को जारी रखें यदि आपके पास रेगुलर इनकम है तो इन्वेस्टमेंट बंद न करें।  इन्वेस्टमेंट को तब तक न तोड़ें जब तक नकद पैसे की जरूरत न पड़े। इनकम चालू या ठीक होने पर, इन्वेस्टमेंट चालू कर दें।


# एसेट्स के एक मिश्रण में इन्वेस्ट करें

money management tips in hindi  - आपको अपने एसेट्स (डिपोजिट, इक्विटी, बॉन्ड्स, गोल्ड, रियल एस्टेट, इत्यादि) का चुनाव अपने जीवन के लक्ष्यों, रिटर्न की उम्मीद, रिस्क उठाने की छमता , इनकम, और लिक्विडिटी सम्बन्धी जरूरत के हिसाब से एक सही अनुपात में करना चाहिए। अपने सारे अंडे एक ही टोकरी में न रखें। अपने पोर्टफोलियो के सबसे अच्छे संभावित परफॉरमेंस के लिए एसेट्स के एक मिश्रण में इन्वेस्ट करें।


# अपने पार्टनर को वित्तीय जानकारी जरूर दें

money management tips in hindi  - पति हो या पत्नी अगर आप नौकरी करते हैं तो अपने पार्टनर को घर की वित्तीय जानकारी जरूर बताएं।  कुछ चैक एकदूसरे के लिए साइन भी रखने चाहिए।  एक दूसरे के एटीएम की पिन आदि की जानकारी पति पत्नी दोनों को जरूर रखनी चाहिए।

सिर्फ पति पत्नी ही एक दूसरे को जानकारी न दें, बल्कि अपने बड़े हो रहे बच्चों को भी इस की जानकारी देनी चाहिए ताकि विपत्ति के दिनों में बच्चे भी उस संकट का सामना आसानी से कर सकें।  इस प्रकार से परिवार के सभी सदस्यों को तैयार रहना चाहिए।  संभव हो तो पति पत्नी व बच्चों का जौइंट अकाउंट भी खुलवाया जा सकता है ताकि जरूरत पड़ने पर कोई भी पैसा निकाल सके। 

money management tips in hindi 

# बचत की आदत डालें

money management का पहला चरण बचत ही है। आप भले जितना भी कमाते हैं, अगर खर्च  करना चाहें, तो वह भी कम पड़ सकता है।  लेकिन आप बचाना चाहते हैं, तो थोड़ी सी इनकम में भी बचाया जा सकता है।  थोड़ी थोड़ी बचत कर भविष्य के लिए ज्यादा मनी  इकट्ठा किया जा सकता है। 


इंसान भविष्य के बारे में कुछ भी नहीं जानता है कि वह कैसा होगा।  विपत्ति बता कर नहीं आती, अचानक आती है।  इसलिए आपकी जैसी इनकम है, वैसी बचत भी होनी चाहिए। money management का पहला चरण बचत ही है।


बचत भविष्य को सुरक्षित रखने के लिए, घर बनाने के लिए, भविष्य में बच्चों की उच्च शिक्षा के लिए, बेटे बेटियों के शादी विवाह के लिए, पहले से ही सोच कर करनी चाहिए। 

इस के अलावा कुछ पैसे आकस्मिक खर्च के लिए भी रखने जरूरी हैं।  बचत के और भी कई कारण हो सकते हैं, जिसे आप भविष्य में करना चाहते हैं।  उस के लिए छोटी छोटी बचत अभी से करना जरूरी है। 

यह भी पढ़ें :- 


मुझे उम्मीद है यह money management tips in hindi  जानकारी आपके लिए उपयोगी साबित होगी। कृपया इस जानकारी को अधिक अधिक लोगों से शेयर जरूर करें। आपने हमे इतना समय दिया आपका बहुत धन्यवाद ।