इंटरनेट विषय के ऊपर निबंध internet par nibandh

इंटरनेट विषय  के ऊपर निबंध  internet par nibandh   



  इंटरनेट आज की आवश्यकता

 

रूपरेखा

  • प्रस्तावना,
  • इंटरनेट का परिचय,
  • इंटरनेट के लाभ,
  • आज के जीवन की आवश्यकता,
  • उपसंहार।

प्रस्तावना- इंटरनेट पूरे विश्व में फैले कम्प्यूटरों का नेटवर्क है, साथ ही एक कार्यालय में विद्यमान कम्प्यूटरों का भी नेटवर्क है। इंटरनेट पर कम्प्यूटर के माध्यम से घर, बाहर यहाँ तक कि सारे संसार की जानकारी प्राप्त की जा सकती है।

 

nibandh internet
इंटरनेट आज की आवश्यकता

 

internet par Nibandh


इंटरनेट का परिचय- (inrerner kya hai) इंटरनेट अत्याधुनिक संचार प्रौद्योगिकी है जिसमें अनगिनत कम्प्यूटर एक नेटवर्क से जुड़े होते हैं। इंटरनेट न कोई सॉफ्टवेयर है,न कोई प्रोग्राम अपितु यह तो एक ऐसा स्थान है जहाँ अनेक सूचनाएँ तथा जानकारियाँ उपकरणों की सहायता से मिलती हैं। इंटरनेट के माध्यम से मिलने वाली सूचनाओं में विश्वभर के व्यक्तियों और संगठनों का सहयोग रहता है। उन्हें नेटवर्क ऑफ सर्वर्स (सेवकों का नेटवर्क) कहा जाता है। यह एक वर्ल्ड वाइड वेब (W.w.w.) है जो हजारों सर्वर्स को जोड़ती है।


# इंटरनेट के प्रकार


नेटवर्क की तीन कैटेगरी होती है।

  • lan (local area network)
  • man (metropolitan area network)
  • wan (wide area network)

wide area network दो प्रकार के होते है। जिसमे पहला है tans (tiny area network) यह कनेक्शन में लेन (lans) जैसा पर उससे  छोटा होता है। wan का दूसरा प्रकार है cans (campus area network) यह एक तरीके से man नेटवर्क जैसा होता है।


# इंटरनेट का इतिहास

internet तेज गति से बढ़ने वाला नेटवर्क है। इसका प्रारंभ 1969 में अमेरिका के रक्षा विभाग में अन्वेषण के कार्यो के लिए हुआ था। शुरू में इसे ARPANET (आपरानेट) नाम दिया गया। 1971 में कम्प्यूटर के विकास और आवश्यक व्रद्धि के कारण ARPANET या इंटरनेट लगभग 10,000 कम्प्यूटर का नेटवर्क बना और आगे चलकरव 1987 से 1989 तक इसमे लगभग 1,00000 कम्प्यूटर बने।

1990 में ARPANET के स्थान पर इंटरनेट का विकास हुआ है। 1992 में 10 लाख कम्प्यूटर 1993 में 20 लाख कम्प्यूटर ओर इसकी बढ़ोतरी बढ़ती ही रही। इंटरनेट सही मायने में लोगो के लिए कम्युनिकेशन के एक्सेस का सबसे सस्तब्व तीव्र गति का माध्यम बन गया। इसके विकास में बहुत से लोगो का योगदान रहा है। इसके शुरू के विकास की अवस्था 1950 के दशक की कही जा सकती है।

अमेरिका  की सरकार ने USSR (सोवियत संघ) से USSR के 1957 में लांच करने से अमेरिका  के हाथ मे चली गयी थी और फिर ARPA (एडवांस रिसर्च प्रोजेक्ट एजेंसी) बनाई गई। जिसमें j.c.r. Licklider कम्प्यूटर विभाग के प्रमुख थे।

इंटरनेट अपने आप मे कोई अविष्कार नहीं है। internet पहले से ही मौजूद टेलिफोन, कम्प्यूटर ओर दूसरी तकनीक को मिलाकर बनाया है।


# Internet का महत्व

Internet मानव को विज्ञान द्वारा दिया गया एक बेहतरीन उपहार से कम नहीं है। इंटरनेट सम्भावनाओ का सागर है। इंटरनेट के माध्यम से हम किसी सूचना, किसी भी चित्र, वीडियो आदि को दुनिया के किसी भी कोने में पोहचा सकते है।


और किसी के पास भी ये पल भर में पहुँचा सकते है। इंटरनेट के माध्यम से हम इमेल भेज सकते है और ईमेल प्राप्त भी कर सकते है। Internet संदेश भेजने का सबसे सस्ता और अच्छा साधन है। इसके लिए किसी को भी एक जगह से दूसरी जगह जाने की आवश्यकता नहीं पड़ती है।


हम हमारे सगे सम्बंधि, दोस्तों से चैटिंग कर सकते है। और ये चेटिंग फेसबूक ओर वॉट्सएप के माध्यम से की जाती है यह सभी को ही पता है। साथ ही हम एक दूसरे को आपस मे देखकर भी बात कर सकते है, ओर उसका माध्यम है विडियो कालिंग।


वीडियो कॉलिंग के द्वारा हम आपस में एक दूसरे को देखकर भी बात कर सकते ओर कांफ्रेंस मीटिंग इत्यादि का काम भी हम इंटरनेट द्वारा बहुत आसानी से कर सकते है।


इंटरनेट के माध्यम से हम कोई भी हमारी गुणवत्ता को लोगो के साथ शेयर कर सकते है। हम हमारे विचार लोंगो तक पुहंचा सकते है। इंटरनेट के माध्यम से हम व्यपार भी कर सकते है और अपनी वस्तुओं का क्रय -विक्रय भी इंटरनेट द्वारा कर सकते है।


इसका सबसे बड़ा साधन एक बेवसाइट होती है। जिसे बना कर हम हमारे ब्लॉग आदि चला सकते है और लोगो को बहुत ज्ञानवर्धक जानकारी प्रदान करा सकते है। इंटरनेट के माध्यम से हम रोजगार पा सकते है।


अपना बायोडाटा घर बैठे किसी भी कम्पनी तक पहुँचा सकते है और Internet पर ही अपना बायोडाटा डाल सकते है। वास्तव में इंटरनेट बेहतरीन सुविधा का साधन है और इसका उपयोग कोई भी कर सकता है।


आजकल तो इंटरनेट बहुत ही सस्ता हो गया है और तो ओर इसका उपयोग छोटे से छोटा बच्चा भी कर सकता है। मानव की बहुत सी नई नई उपलब्धियां इंटरनेट के माध्यम से ही सम्भव हो पायी है।


इंटरनेट के लाभ- इंटरनेट के द्वारा विभिन्न प्रकार के दस्तावेज, सूची, विज्ञापन, समाचार, सूचनाएँ आदि उपलब्ध होती हैं। ये संसार में कहीं पर भी प्राप्त की जा सकती हैं। पुस्तकों में लिखे विषय, समाचार-पत्र, संगीत आदि सभी इंटरनेट के माध्यम से प्राप्त किये जाते हैं। संसार के किसी भी कोने से कहीं पर भी सूचना प्राप्त की जा सकती है और भेजी जा सकती है। हमारे व्यक्तिगत, सामाजिक, कार्यालयी, औद्योगिक, शिक्षा, संस्कृति, राजनीति आदि सभी क्षेत्रों में इंटरनेट उपयोगी है।

 

आज के जीवन की आवश्यकता- त्वरित सूचना के इस युग में इंटरनेट अत्यन्त आवश्यक है। शिक्षा, स्वास्थ्य, यात्रा, पंजीकरण, आवेदन आदि सभी कार्यों में इंटरनेट सहयोगी है। पढ़ने वाली दुर्लभ पुस्तकों को संसार के किसी कोने में पढ़ा जा सकता है। स्वास्थ्य सम्बन्धी विस्तृत जानकारियाँ इंटरनेट पर उपलब्ध होती हैं। इंटरनेट के द्वारा संसार के किसी भी विशिष्ट व्यक्ति के विषय में जाना जा सकता है। सभी प्रकार के टिकट घर बैठे इंटरनेट से लिये जा सकते हैं। दैनिक जीवन की समस्याओं को भी हल करने वाला इंटरनेट आज के जीवन की अनिवार्यता बन गया है।

 

उपसंहार- सूचना प्रौद्योगिकी जगत में यदि हमें सुविधापूर्वक जीवन बिताता है तो इंटरनेट बहुत उपयोगी है। अत: इंटरनेट का सहयोग हमें लेना चाहिए। इससे कार्य उपयुक्त तथा त्वरित होता है। यह सभी क्षेत्रों में उपयोगी है इसीलिए इंटरनेट आज के जीवन की आवश्यकता बन गया है।


यह भी पढ़ें :-

पुस्तकालय पर निबंध 

वसंत ऋतू पर निबंध 

कम्प्यूटर पर हिंदी निबंध 

परोपकार पर हिंदी निबंध 

पर्यावरण प्रदूषण पर हिंदी निबंध 

जनसँख्या वृद्धि पर निबंध 

बाल दिवश पर हिंदी इस्पीच 

समय का महत्व वा सदुपयोग पर हिंदी निबंध 

 स्पीक इन हिंदी 

विज्ञान के चमत्कार पर निबंध 

इंटरनेट के ऊपर निबंध 

आलश्य मनुष्य का शत्रु है 

विधार्थी जीवन में अनुशासन का महत्व 

दीपावली पर निबंध 

महात्मा गाँधी पर निबंध 

15 अगस्त स्वतंत्रा दिवस पर भाषण 

टीचर्स डे इस्पीच इन हिंदी 

वृक्षारोपण के महत्व पर निबंध 

पत्र लेखन 

निबंध इन हिंदी