कुत्तों से सम्बंधित शुभ व अशुभ संकेत kutte ke sanket

  कुत्तों  से सम्बंधित  शुभ व अशुभ संकेत

kutte ke sanket - आदि काल से ही कुत्ता मनुष्य के साथ रहता आया है। यह वह पहला जानवर है जिसे मनुष्य में अपना पालतू बनाया था। कुत्ते और इंसान की दोस्ती बहुत ज्यादा पुरानी है। और आज तक चली आ रही है। आज भी हमारे घरों में कुत्ते को पला जाता  है और उसका  देख भाल किया जाता है। कुत्ते में मनुष्य कई बहुत सहायता की है। 


और आज भी हम अपने घरों,पशुओं ,खेतों  की  सुरक्छा के लिए कुत्ते पालते है। और कुत्ते भी उतनी ही ईमानदारी से हमारा साथ निभा रहे है जितना उस समय निभाते थे जब हमने उन्हें पालना शुरू किया था। 


कुत्ते बहुत दिलचप्स ,ईमानदार और बुद्धिमान होते है। दुनिया के पांच सबसे समझदार जानवरों में कुत्ता भी शामिल है। कुत्तों में गजब के और रहष्यमई लक्छण होते है। हमारे पूर्वज भी इनके रहश्यमई लक्छणो के संकेतों के माध्यम से कई अनुमान लगाया करे और उनमे सफल भी होते थे। 

पुरने समय से ही बुर्जुग लोग इन संकेतों का उपयोग अपने दैनिक जीवन में शुभ व अशुभ संकेत के रूप में करते आ रहे है। तो चलिए आज हम भी आपको इन कुत्तों से सम्बंधित शुभ व अशुभ संकेतों के बारे में जानकारी साझा करते है। मुझे उम्मीद है आपको यह जानकारी रोचक लगेगी। 


kutte ke sanket
kutte ke Sanket

kutte ke sanket

1. कुत्ता यदि अचानक धरती पर अपना सिर रगड़े और यह क्रिया बार-बार करे तो उस स्थान पर गड़ा धन होने की संभावना होती है 

2. यदि यात्रा करते समय किसी व्यक्ति को कुत्ता अपने मुख में रोटी, पूड़ी या अन्य कोई खाद्य पदार्थ लाता दिखे तो उस व्यक्ति को धन लाभ होने की संभावना बनती है।

3. जिसके घर में कोई कुत्ता बहुत देर तक आकाश, गोबर, मांस, विष्ठा देखता है तो उस मनुष्य को सुंदर स्त्री की प्राप्ति और धन का लाभ होने के योग बनते हैं।

 4. यदि किसी रोगी के सामने कुत्ता अपनी पूंछ या ह्रदय स्थल बार-बार चाटे तो शकुन शास्त्र के अनुसार बहुत ही जल्दी उस रोगी की मृत्यु होने की संभावना रहती है।

5. यात्रा के लिए जाते हुए यदि कोई कुत्ता बांई ओर संग-संग चले तो सुंदर स्त्री और धन की प्राप्ति हो सकती है। यदि दाहिनी ओर चले तो चोरी या और किसी प्रकार से धन हानि की सूचना देता है।

6. यदि किसी जुआरी को जुआ खेलते जाते समय दाईं ओर कुत्ता मैथुन करता मिले तो उसे जुएं में अत्यधिक लाभ होने की संभावना रहती है।

7. यदि कुत्ता बाएं घुटने को सूंघते हुए दिखे तो धन प्राप्ति हो सकती है तथा दाहिने घुटने को सूंघता दिखे तो पत्नी से झगड़ा हो सकता है। बांई जांघ को सूंघे तो स्त्री से समागम और दाईं जांघ को सूंघे तो मित्र से वैर होने की संभावना रहती है।

8. यदि किसी यात्री को देखकर कुत्ता भय से या क्रोध से गुर्राता है अथवा बिना किसी कारण से इधर-उधर चक्कर काटे तो उस यात्रा करने वाले को धन की हानि होगी 

9. यदि किसी व्यक्ति की चारपाई के नीचे घुसकर कुत्ता भौंकता है तो, उस चारपाई पर सोने वाले को रोग और मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है।

10. यदि कुत्ता पेड़ के नीचे खड़ा होकर भौंकता है तो ये वर्षाकाल में अच्छी वर्षा का संकेत होता है।

11. किसी किसान को हल ले जाते हुए रास्ते में कुत्ता बांई और मिल जाए और फिर घर आते समय दाहिनी ओर मिले तो उसकी उपज अच्छी होती है।

12.कुत्ता यदि अपनी जीभ से अपने दाहिने अंग को चाटता है अथवा खुजलाता है तो ये कार्य सिद्धि की सूचना है या जीभ से पेट को छूता हुआ दिखाई दे तो लाभ होता है।

13. यात्रा पर जाते समय कुत्ता जूते लेकर भाग जाए या किसी ओर के जूते लेकर सामने आ जाए तो निश्चित रूप से उस व्यक्ति के धन को चोर चुरा लेते हैं।

कुत्ते का विष्ठा करना शुभ-अशुभ:-  जिसके घर में कोई कुत्ता बहुत देर तक आकाश, गोबर, मांस, विष्ठा देखता है तो उस मनुष्य को सुंदर पत्नी  प्राप्ति और धन-संपत्ति लाभ होने के योग बनते हैं। लेकिन किसी के घर में कुत्ते का विष्ठा करना अशुभ माना जाता है। 


यह भी पढ़ें:-

सपनों का मतलब

शरीर के अंगों में तिल का अर्थ 

शुभ व अशुभ संकेत 

शगुन अपसगुन क्या होता है ?

उल्लू के शुभ अशुभ संकेत 

कुत्ते के शुभ अशुभ संकेत 

सांप के शुभ अशुभ संकेत 

बिल्ली के शुभ अशुभ संकेत 

छींक के शुभ अशुभ संकेत 

गाय के शुभ अशुभ संकेत 

चिपकी के शरीर पर गिरने के  शुभ अशुभ संकेत 


मुझे उम्मीद है आपको ये सभी shubh ashubh sanket शकुन एवं अपशकुन के बारे में जानने की लालसा इस लेख से पूरी हुई होगी हमने आपके लिए सपनों का मतलब, शरीर के अंगों में तिल का अर्थ  और शरीर के किस अंग के फड़कने का क्या फल,मतलब होता है पर भी आर्टिकल लिखा है उन्हें पढ़कर भी आप अपना ज्ञान बढ़ा सकते है।  

आपने हमे इतना समय दिया आपका बहुत धन्यवाद।